एक महत्वपूर्ण चुनौती का समाधान करने के लिए एक साहसिक कदम में, सात प्रमुख भारतीय कंपनियों के एक संघ ने भारतीय गुणवत्ता प्रबंधन संस्थान (IFQM) को लॉन्च किया है। यह एक धारा 8 के तहत गैर-लाभकारी कंपनी है।

एक महत्वपूर्ण चुनौती का समाधान करने के लिए एक साहसिक कदम में, सात प्रमुख भारतीय कंपनियों के एक संघ ने भारतीय गुणवत्ता प्रबंधन संस्थान (IFQM) को लॉन्च किया है। यह एक धारा 8 के तहत गैर-लाभकारी कंपनी है। IFQM भारतीय व्यवसायों के भीतर क्वालिटी (गुणवत्ता) और इनोवेशन (नवाचार) की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए डेडिकेटेड एक अनूठा संस्थान है।

भारतीय उद्योग जगत के अग्रणीय नामों टाटा संस, टीवीएस मोटर कंपनी, सन फार्मा, मदरसन ग्रुप, भारत फोर्ज, बोइंग इंडिया और बायोकॉन द्वारा समर्थित यह पहल वैश्विक मंच पर "मेक इन इंडिया" ब्रांड को आगे बढ़ाने का लक्ष्य रखती है।

IFQM व्यापार जगत के लीडर्स को गुणवत्ता प्रबंधन में लेटेस्ट ज्ञान और उपकरणों से लैस करने, व्यक्तिगत मार्गदर्शन के लिए उन्हें मशहूर वैश्विक विशेषज्ञों से जोड़ने और उद्योग जगत के लीडर्स के बीच ज्ञान साझा करने और सहयोग को बढ़ावा देने का प्रयास करेगा। IFQM विशेष गुणवत्ता सलाहकारों के साथ संगठनों की मदद करेगा। और अत्याधुनिक रिसर्स और इनसाइट तक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए उद्योग और शिक्षा जगत के बीच की खाई को पाटेगा।

टीवीएस मोटर कंपनी के चेयरमैन एमेरिटस वेणु श्रीनिवासन - चेयरमैन (IFQM), टाटा संस के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन, सन फार्मा के प्रबंध निदेशक दिलीप शांगवी और सौमित्र भट्टाचार्य - सीईओ (IFQM) IFQM के बोर्ड सदस्य हैं।

IFQM के अध्यक्ष वेणु श्रीनिवासन ने कहा, "IFQM के पास गुणवत्ता और इनोवेशन पर सर्वोत्तम अभ्यास साझा करने और पारस्परिक सीखने की संस्कृति बनाकर भारतीय उद्योग के लिए गेम-चेंजर बनने की क्षमता है।" उन्होंने आगे कहा, "इस तरह हम अपनी वास्तविक क्षमता को उजागर कर सकते हैं और दुनिया में सर्वश्रेष्ठ के साथ सीधे प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं।"

वेणु श्रीनिवासन, एन चंद्रशेखरन और दिलीप शांगवी के अलावा IFQM की गवर्निंग काउंसिल के सदस्यों में किरण मजूमदार शॉ, बाबा कल्याणी, टी.वी. नरेंद्रन, विवेक चांद सहगल, सलिल गुप्ते और के.एन. राधाकृष्णन शामिल होंगे।

ये संस्थापक सदस्य IFQM के प्रशासन में एक्टिव रूप से शामिल होंगे, यह सुनिश्चित करते हुए कि इसके कार्यक्रम भारतीय व्यवसायों की विशिष्ट जरूरतों के मुताबिक हों। IFQM को भारत में वरिष्ठ नेतृत्व को लक्षित परामर्श, प्रशिक्षण, कोचिंग और विशेषज्ञ मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए डिजाइन किया गया है। IFQM का लक्ष्य भारतीय संगठनों के भीतर गुणवत्ता की संस्कृति को संस्थागत करना है।

यह उद्योग जगत के नेतृत्व वाली पहल भारतीय व्यवसायों के उत्पाद और सर्विस की गुणवत्ता और विश्वसनीयता को बेहतर बनाने में मदद करेगी। जिससे उन्हें वैश्विक मंच पर ज्यादा प्रभावी ढंग से प्रतिस्पर्धा करने और आपूर्ति श्रृंखला की लचीलापन बनाने में मदद मिलेगी। इसका मकसद अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में "मेड इन इंडिया" ब्रांड को मजबूत करना है, जिससे व्यापार विस्तार को बढ़ावा मिल सके। बढ़ती प्रतिस्पर्धा से भारत के लोगों के लिए आर्थिक विकास और समग्र समृद्धि का रास्ता खुलेगा।

Azra News

Azra News

Next Story