Ram Mandir: पूर्व मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि मैं भी राम का वंशज हूं। हम भी 22 जनवरी को अयोध्या जाना चाहते हैं, लेकिन वहां 22 जनवरी तक भाजपा का कब्जा है। प्रताप सिंह खाचरियावास ने तंज कसते हुए कहा कि मूर्ति से लेकर सब का फैसला भाजपा ही कर रही है।

राजस्थान के पूर्व मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने राम मंदिर और रामलला प्राण प्रतिष्ठा पर भाजपा को घेरते हुए कहा कि हम सब राम के भक्त है, परंतु भाजपा ने राम पर कब्जा कर लिया है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव में राम का सहारा लेते हुए यहां तक आये हैं।


खाचरियावास ने कहा कि भाजपा कहती है कि जो राम को लाए हैं, हम उनको लाएंगे, भाजपा के लोगों को पाप लगेगा कि वोट की राजनीति के लिए राम के नाम का उपयोग कर रहे है। यह कहते है कि यह राम को लाये हैं, परंतु राम पूरे जगत में समाए हुए है, हम तो खुद ही राम के वंशज है, पर राम के नाम पर राजनीति नहीं करते है।

भाजपा को शास्त्र का ज्ञान नहीं

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि भाजपा को ना तो शास्त्र का ज्ञान है और ना ही किसी और का, ये किसी की नहीं सुनते हैं। खाचरियावास ने कहा कि राम जी गोरे रंग के थे, परंतु इनको साउथ में अपना काम बनाना है तो इन्होंने राम की मूर्ति को भी साउथ से ही चुना है। इनका कब्जा है मंदिर और उससे जुड़ी सभी संस्थानों पर जो यह चाहते है वो हो रहा है।

राम मंदिर का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया

प्रताप सिंह ने आगे कहा कि देश के शंकराचार्य बोल रहे है कि मंदिर पूरा नहीं हुआ, मंदिर पूरा करके प्राण प्रतिष्ठा कर ले, परंतु इनको तो चुनाव और वोटों की इतनी जल्दी है कि यह जो बोले वो ही सही है। वहीं उन्होंने कहा कि राम मंदिर का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया, पैसे आम आदमी ने एकत्रित्र करके दिये, इनके ही सूत्र बताते है 3200 करोड़ एकत्र किया है।

Azra News

Azra News

Next Story