शिक्षकों का विरोध जारी, नहीं लग रही आनलाइन हाजिरी - स्कूलों में रखे रहे टैबलेट, चौथे दिन भी दिखी शिक्षकों की एकजुटता.कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते उत्तर प्रदेश...

शिक्षकों का विरोध जारी, नहीं लग रही आनलाइन हाजिरी

- स्कूलों में रखे रहे टैबलेट, चौथे दिन भी दिखी शिक्षकों की एकजुटता

- स्कूलों में काली पट्टी बांध किया शैक्षिक कार्य, एक संगठन ने सौंपा ज्ञापन

फोटो परिचय- कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के पदाधिकारी।

फतेहपुर। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित परिषदीय विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्थिति के लिए डिजिटल हाजिरी की जो व्यवस्था की गई है उसके विरोध में शिक्षक पूरी तौर पर लामबंद हैं। चौथे दिन गुरुवार को भी जिले में डिजिटल हाजिरी के विरोध का व्यापक असर देखा गया। नगरीय क्षेत्रों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षकों को दिये गये टैबलेट विद्यालयों में रखे रहे। शिक्षक नेता भी अपने अपने क्षेत्रों में आंदोलन की सफलता के लिए मोर्चा संभाले रहे। डिजिटल हाजिरी के विरोध में शिक्षक काली पट्टी बांधकर शिक्षण कार्य कर रहे हैं।

जनपद के 2126 विद्यालयों में डिजिटल हाजिरी का विरोध किया जा रहा है। चौथे दिन जिले में डिजिटल बहिष्कार का असर देखा गया। शिक्षक संगठनों के विभिन्न सोशल मीडिया ग्रुप पर डिजिटल हाजिरी को लेकर विरोध सुर्खियों में रहा। शिक्षकों ने काली पट्टी बांधकर बच्चों को पढ़ाने का काम किया। शिक्षक विभिन्न समस्याओं के निस्तारण की मांग कर रहे हैं। इसके बाद ही डिजिटल हाजिरी लगाने की बात कर रहे हैं। शिक्षक नेताओं ने अपने अपने क्षेत्रों में नजर रखी। उन लोगों पर भी खास निगाह रखी जो कि आंदोलन में असहयोग कर रहे हैं। प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला महामंत्री विजय त्रिपाठी ने बताया कि डिजिटल हाजिरी के विरोध में जनपद भर के शिक्षक लामबंद हैं। उन्होंने बताया कि जब तक शिक्षकों की समस्याएं निस्तारित नही होंगी तब तक विरोध जारी रहेगा।

इनसेट-

डीएम के माध्यम से सीएम को भेजा ज्ञापन

ऑनलाइन हाजरी के विरोध उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ ने समर्थन करते हुए कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। तत्पश्चात जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर आनलाइन हाजिरी बंद कराए जाने की आवाज उठाई। इस मौके पर जिलाध्यक्ष सुशील तिवारी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुनील मिश्रा, उपाध्यक्ष शैलन्द्र वर्मा, सुमित द्विवेदी भी मौजूद रहे। उधर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, अटेवा आदि संगठनों के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट पहुंच कर आनलाइन हाजिरी के खिलाफ आवाज उठाई। बाद में मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन डीएम को सौंप कर मांगों को पूरा किए जाने की अपील की। इस मौके पर निधान सिंह, बृजेश सिंह, अजय मिश्रा, राजीव उमराव समेत अन्य तमाम शिक्षक शामिल रहे।

इनसेट-

बीएसए कार्यालय में 15 को जुटेंगे शिक्षक

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ एवं प्राथमिक शिक्षक संघ के आह्वान पर 15 जुलाई को जिले के शिक्षक शिक्षण कार्य करने के बाद बीएसए कार्यालय में जुटेंगे। जहां धरना प्रदर्शन करते हुए बीएसए को ज्ञापन सौंपने की योजना है। संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि शिक्षक अपने मान सम्मान और समस्याओं के निस्तारण के लिए इस संघर्ष में कंधा से कंधा मिलाकर चल रहे हैं और 15 को बड़ी संख्या में शिक्षक बीएसए कार्यालय में भी पहुंचेंगे।

Azra News

Azra News

Next Story