हिंसा के दौरान उपद्रवियों ने एक मजिस्ट्रेट और 11 पुलिसकर्मियों को बनभूलपुरा थाने में जलाकर मारने का प्रयास किया। एसएसपी समय से पुलिस को वहां मूव नहीं कराते तो एक बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

हल्द्वानी हिंसा के दौरान हुई आगजनी का एक और वीडियो सामने आया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे उपद्रवियों ने थाने को आग के हवाले कर दिया।

दरअसल, उपद्रवियों ने बनभूलपुरा क्षेत्र में जमकर उत्पात मचाया। जब पुलिस मलिक के बगीचे में धार्मिक संरचना तोड़कर भागी तो लोगों ने यहां पुलिस पर भारी पत्थर किया। दूसरी तरफ इनका दूसरा जत्था बनभूलपुरा आ धमका। उस समय मजिस्ट्रेट और पुलिसकर्मी बाहर खड़े थे। उपद्रवियों ने पथराव शुरू कर दिया।

सभी लोग जान बचाने के लिए थाने के अंदर भागे। उन्होंने थाने में अपने को बंद कर लिया। भीड़ ने थाने में पथराव कर दिया। इसके बाद बाहर लगे सीसीटीवी को भी तोड़ दिए। पुलिसकर्मियों ने माल खाने में छुपकर जान बचाई। इसके बाद दंगाइयों ने थाने में घुसकर जमकर तोड़फोड़ की और पेट्रोल बम फेंककर थाने में आग लगा दी।

मजिस्ट्रेट और पुलिस कर्मियों ने प्रशासन और एसएसपी को सूचना दी। धुंए के कारण इन सभी का दम घुटने लगा। एसएसपी ने मौके पर फायर ब्रिगेड वाहन को भेजा। साथ ही फोर्स को बनभूलपुरा थाने की ओर मूव कराया और हवाई फायर के निर्देश दिए। इसके बाद बनभूलपुरा थाने में और उपद्रवियों पर पानी की बौछार की गई। इसके बाद फोर्स भेजकर इन सभी को निकाला गया।

Azra News

Azra News

Next Story